Saturday 12 February 2011

जीवन में पतझड़

---- चुटकी---

सुना है हर
पतझड़ के बाद
आता है बसंत,
पता नहीं
मेरे जीवन के
पतझड़ का
कब होगा अंत।

No comments: