Tuesday 8 February 2011

लोकतंत्र का घाटा

प्रत्येक ऋतु के

सभी बसंत

नेताओं के खाते में ,

आदमी

मारा गया

लोकतंत्र के

इस घाटे में।

No comments: