Saturday, 25 October, 2008

पप्पी डॉग की किस्मत

मिस वर्ल्ड के से साइज़ की
दो चोटी वाली एक कन्या
अपने ६ माह के पप्पी डॉग,
जिस पर एक ब्यूटी स्पॉट भी था
की जंजीर पकड़ कर
हर रोज मोर्निंग वाक को जाती
रास्ते में जब पप्पी डॉग
किसी वाहन,खंभे या
चारदीवारी पर
एक टांग उठाकर सू सू करता तो
कन्या मंद मंद मुस्कुराती
पार्क में पहुंचते ही कन्या
पप्पी डॉग की जंजीर खोल देती,
फ़िर एक बेंच पर बैठकर
उसे पुच्च पुच्च ,आ आ करके बुलाती
पप्पी डॉग तुंरत उछलकर
उसके शरीर पर चढ़ जाता
फ़िर आगे पीछे उछलकूद
करते हुए उसकी चोटियों से खेलता
कभी कभी तो वह कन्या की
चोटियाँ पकड़ कर झूलने भी लगता
इस तरह से वाक करने के बाद
वे दोनों घर लौट जाते,
शाम को दोनों फ़िर वाक पर आते
और लोगों का दिल बहलाते
सूत्र बतातें हैं कि वह पप्पी डॉग
रात को उसी कन्या के साथ है सोता,
इतना सुनने और जानने के बाद
मैं सोचता हूँ
काश! मैं पप्पी डॉग होता,
काश! मैं पप्पी डॉग होता।

No comments: