Sunday, 19 October, 2008

मेरी पहली चुटकी

बात उस समय की है जब हिंदुस्तान के श्री राकेश शर्मा अन्तरिक्ष में गए थे। तब यह चुटकी पंजाब केसरी अखबार में प्रकाशित हुई थी। तब से आज तक नहरों -नदियों में ना जाने कितना पानी बह गया।

---चुटकी-----

राकेश शर्मा की
अन्तरिक्ष यात्रा ,
मात्र है ये एक बात
चार दिन की चाँदनी
फ़िर अँधेरी रात।

---गोविन्द गोयल

No comments: