Friday 1 March 2013

शब्दों के कलाकार अलबेला खत्री का अभिनंदन



श्रीगंगानगर-स्थानीय राजनीति के एक बड़े कलाकार के सानिध्य में शब्दों के कलाकार का नागरिक अभिनंदन नगर परिषद और सृजन सेवा संस्थान ने नगर परिषद सभाकक्ष में किया। राजनीति के बड़े कलाकार थे जगदीश जांदू, जिनकी अध्यक्षता में शब्दों के कलाकार कवि अलबेला खत्री का अभिनंदन किया गया। इस मौके पर बड़ी संख्या में साहित्य प्रेमी उपस्थित थे। अलबेला खत्री ने अपने भाव भरे सम्बोधन में कहा कि वे आज तक मिले सभी पुरस्कार इस अभिनंदन पर न्यौछावर करते हैं। श्रीगंगानगर से मुंबई जाकर उन्होने क्या कुछ भोगा उसका जिक्र करते हुए श्री खत्री ने कहा कि उस स्तर पर आदमी बर्दाश्त कर ले तो उसका रास्ता रोकने वाला कोई नहीं हो सकता। शिर खत्री ने बताया कि कामयाबी  का यह सफर किस प्रकार से आगे बढ़ा और क्या क्या दुख तकलीफ भोगने पड़ी। उन्होने विविध प्रकार की  मधुर रचनाएं प्रस्तुत कीं। जिनका खूब आनंद उपस्थित जनों ने लिया। हर लाइन पर वाह! वाह! हुई और तालियाँ बजाई। उनको सभापति जगदीश जांदू, बीजेपी नेता रमेश राजपाल,साहित्यकार डॉ विद्यासागर शर्मा ने अभिनंदन स्वरूप स्मृति चिन्ह भेंट किया। उनको साफा पहनाया गया। शॉल दी गई। डॉ कृष्ण कुमार आशू ने अलबेला खत्री का परिचय दिया। संदेश त्यागी ने संचालन किया। इससे प्रेम चुघ,कृष्ण स्याग,के सी शर्मा रमजान अली  चोपदार ने कार्यक्रम को संबोधित्त किया। कार्यक्रम में पार्षद,पूर्व पार्षद,परिषद के कर्मचारी,कई संस्थाओं से जुड़े लोग भी थे। आरंभ में अनेकानेक व्यक्तियों ने अलबेला खत्री को फूल माला पहना कर स्वागत किया।


No comments: