Friday 2 October 2009

बुत,विचार और तस्वीर

---- चुटकी-----

कौन ! महात्मा गाँधी
हम नहीं जानते हैं,
हम तो राहुल गाँधी को
अपना आदर्श मानते हैं,
एक यही गाँधी हमें
सत्ता का स्वाद चखाएगा,
महात्मा तो बुत है,
तस्वीर है,विचार है,
यूँ ही
पड़ा,खड़ा सड़ जाएगा।

1 comment:

shyam1950 said...

kya bat hai nardmuni aapki chutkiyan to noon rai tel aur khoob sari mirch ka tadka hai.ye but vichar aur tasweer sheershak kuch jama nahin. lekin kavita bhut pyari bani hai.

कौन !
महात्मा गाँधी
हम नहीं जानते
हम तो राहुल को
आदर्श मानते हैं,
यही गाँधी हमें
सत्ता का स्वाद चखाएगा,
महात्मा तो बुत है,
तस्वीर है,विचार है,
यूँ ही
पड़ा,खड़ा, सड़ जाएगा।
bahut sundar.