Saturday, 22 August, 2009

गणपति बाबा जी


फ़िर से आए
हमारे द्वार
गणपति बाबा जी,
चरण पखारूँ
बारम्बार
गणपति बाबा जी,
आप आए तो
रौणक लागी
रोज मनाएं
त्यौहार
गणपति बाबा जी।

No comments: